60 लाख सालाना कमाता है ‘युवराज’, मालिक 9.5 करोड़ में भी बेचने को तैयार नहीं

कृषि एवं पशुपालन के क्षेत्र में आज लोगों की सोच एकदम बदल चुकी है। लोग पुराने तरीके की खेती को छोड़कर उन्नत खेती की तरफ अग्रसर हैं। इन्हीं में से एक हैं हरयाणा के शहर कुरुक्षेत्र के किसान कर्मवीर सिंह, जो भैंसे को अपने बेटे की तरह पाल रहे हैं। उन्होंने इसका नाम भी ऐसा-वैसा नहीं, बल्कि ‘युवराज’ रखा है। अक्सर उत्तर भारत में लगने वाले पशु मेलों में Yuvraj Buffalo के नाम की धूम देखी-सुनी जा सकती है। खास बात यह है कि कर्मवीर, युवराज को 9.5 करोड़ रुपए में भी बेचने को तैयार नहीं हैं।

 

केवल एक हज़ार रूपए से शुरू हैं यह मोबाइल फोन्स

 

– कर्मवीर सिंह 8 वर्ष के ‘युवराज’ को बरसों पहले हिसार से लेकर आए थे। उन्होंने भैंसे के नाम के पीछे की दिलचस्प कहानी बताई कि भैंसे का नाम क्रिकेटर युवराज सिंह से प्रभावित होकर रखा गया था। युवराज ने अपने चौकों-छक्कों से देश का नाम बढ़ाया, परिवार ने सोचा कि भैंसा घर का नाम बढ़ाए, इसलिए इसका नाम युवराज रखा गया।
– कर्मवीर का कहना है कि देश के विभिन्न स्थानों में लगने वाले पशु मेलों में इसे खरीदने के लिए लोग लगातार संपर्क में रहते हैं। कई बड़े ऑफर आ चुके हैं। एक खरीदार तो युवराज को 9 करोड़ रुपए में भी खरीदने को तैयार था, मगर कर्मवीर अपने भैंसे को बेचना नहीं चाहते।
– फरवरी माह में उत्तर प्रदेश-मध्य प्रदेश के बॉर्डर पर स्थित चित्रकूट ग्रामोदय मेले में यह भैंसा लोगों के आकर्षण का केंद्र बना रहा, वहीं पिछले वर्ष पूसा में कृषि उन्नति मेला का उद्घाटन करने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नजर जब युवराज पर पड़ी, तो वे भी कुछ देर के लिए आश्चर्य में पड़ गए थे।

 

500 रुपये से भी कम में पाएं ब्रांडेड टी-शर्ट्स

 

अगले पेज पर और पढ़ें Yuvraj Buffalo के बारे में

One thought on “60 लाख सालाना कमाता है ‘युवराज’, मालिक 9.5 करोड़ में भी बेचने को तैयार नहीं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *